ईश्वर नहीं नींद चाहिए (कविता संग्रह)

अबकी मुझे चादर बनाना

सद्दाम हुसैन हमारी आखिरी उम्मीद था

ईश्वर नहीं नींद चाहिए

क्या सोचती होगी धरती

लिखने से क्या होगा