nayi kitaab - ek chithda sukh - nirmal verma

विवरण: निर्मल वर्मा ने इस उपन्यास में ‘दुख का मन’ परखना चाहा है- ऐसा दुख, जो ज़िन्दगी के चमत्कार और मृत्यु के रहस्य को उघाड़ता है…मध्यवर्गीय जीवन-स्थितियों के बीच उन्होंने बिट्टी, इरा, नित्ती भाई और डैरी के रूप में ऐसे पात्रों का सृजन किया है, जो अपनी-अपनी ज़िन्दगी के मर्मान्तक सूनेपन में जीते हुए पाठक की चेतना को बहुत गहरे तक झकझोरते हैं। शीर्षस्थ कथाकार निर्मल वर्मा की अविस्मरणीय कृति, जो रचनात्मक स्तर पर स्थूल यथार्थ की सीमाओं का अतिक्रमण करके जीवन-सत्य की नयी सम्भावनाओं को उजागर करती है।

  • Hardcover: 242 pages
  • Publisher: Vani Prakashan
  • Language: Hindi
  • ISBN-10: 9387155536
  • ISBN-13: 978-9387155534

इस किताब को खरीदने के लिए ‘एक चिथड़ा सुख’ पर या नीचे दी गयी इमेज पर क्लिक करें!

nayi kitaab - ek chithda sukh - nirmal verma