nayi kitaab - jungle mein pagal hathi aur dhol

विवरण: क्या आप नए कवि हैं और आप बड़ी साहित्यिक पत्रिकाओं में छपना चाहते हैं? आप अपनी कवितायें पत्रिकाओं में भेजते हैं और वहाँ से आपको कोई जवाब नहीं आता है? तो आपके लिए यह जानना जरूरी है कि आजकल बड़ी साहित्यिक पत्रिकाएँ क्या प्रकाशित कर रही है…. किस तरह की कविताएँ संपादकों के द्वारा पसंद की जा रही है? उन कविताओं का शिल्प और मिजाज क्या है? इसके लिए आपको पढ़ना चाहिए नीरज नीर कृत “जंगल में पागल हाथी और ढ़ोल” जो रश्मि प्रकाशन, लखनऊ के द्वारा प्रकाशित है एवं जिसकी अधिकांश रचनाएँ बड़ी पत्रिकों में प्रकाशित हुई है।

  • Format: Paperback
  • Publisher: Rashmi prakashan pvt. ltd. (2018)
  • ISBN-10: 8193557565
  • ISBN-13: 978-8193557563

इस किताब को खरीदने के लिए ‘जंगल में पागल हाथी और ढोल’ पर या नीचे दी गयी इमेज पर क्लिक करें!

nayi kitaab - jungle mein pagal hathi aur dhol