Sudin - Shashank

शशांक कृत ‘सुदिन’

विवरण: 

शशांक ने आँखों से कहानी कही हैं, जो कहने की असम्भव कला है। उसमें सारी दृष्टि है। असगर वज़ाहत ने एक चीज़ कही है-नफ़ासत। बड़ी चीज़ है उसकी। और लाउड कहिए, सुर ऊँचा नहीं उठता है। मद्धम सुर में, बिना आवाज़ के। जिसको भाव या रस कहते हैं, एक प्रकार की अनुभूति है जो आपके मन को छुयेगी। ऐसी कि इसको कभी किसी ने छुआ न हो।

– नामवर सिंह

  • Format: Hardcover
  • Publisher: Vani Prakashan (2019)
  • ISBN-10: 9387889416
  • ISBN-13: 978-9387889415
  • ASIN: B07N8XXBQM