सा रे गा मा ‘पा’किस्तान – शिवा

सामवेद से जन्मे सुरों को
लौटा दो हिन्दुस्तान को
और कह दो पाकिस्तान से
वापस ले जाए
नुसरत, राहत, हसन, गुलाम, रेशमा सबको
भारतीयों के दिलो-दिमाग से

बस इतना याद रहे कि यह बँटवारा
गायकों का नहीं
सप्तक का है
भारतीय बच्चे अब ‘पा’ से आगे नहीं गाएँगे!

■■■