कविताएँ | Poetry

कविता: ‘बिजली फेल होने पर’ – बेढब बनारसी

‘बिजली फेल होने पर’ – बेढब बनारसी फेल बिजली हो गयी है रात मेरे ही भवन में आज आकर खो गयी है आ रही थीं वह लिए थाली मुझे भोजन खिलाने मैं उसी दम था Read more…

By Posham Pa, ago

Copyright © 2018 पोषम पा — All rights reserved.




Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.


error: