बाल गुरु

'बाल गुरु' - मृदुला गर्ग लड़का तब चौथी कक्षा में पढ़ता था। इतिहास की क्लास चल रही थी। टीचर बोल…

Continue Reading

कुत्ते की पूँछ

'कुत्ते की पूँछ' - यशपाल श्रीमती जी कई दिन से कह रही थीं- "उलटी बयार" फ़िल्म का बहुत चर्चा है,…

Continue Reading

टोबा टेक सिंह

'टोबा टेक सिंह' - सआदत हसन मंटो बंटवारे के दो-तीन साल बाद पकिस्तान और हिंदुस्तान की सरकारों को ख्याल आया…

Continue Reading

हार की जीत

'हार की जीत' - सुदर्शन माँ को अपने बेटे और किसान को अपने लहलहाते खेत देखकर जो आनंद आता है,…

Continue Reading
Close Menu
error: