Tag: Kukurmutta

Suryakant Tripathi Nirala

प्रेम-संगीत

बम्हन का लड़का मैं, उसको प्यार करता हूँ। जात की कहारिन वह, मेरे घर की है पनहारिन वह, आती है होते तड़का, उसके पीछे मैं मरता हूँ। कोयल-सी काली, अरे, चाल...
कॉपी नहीं, शेयर करें! ;)