Tag: Urdu Story

Ismat Chughtai - Urdu writer

भाभी

भाभी ब्याह कर आई थी तो मुश्किल से पंद्रह बरस की होगी। बढवार भी तो पूरी नहीं हुई थी। भैया की सूरत से ऐसी...
Khwaja Ahmad Abbas

सरदार जी

कहानी: 'सरदार जी' - ख्वाजा अहमद अब्बास (अनुवाद: शम्भु यादव) लोग समझते हैं सरदार जी मर गये। नहीं यह मेरी मौत थी। पुराने मैं की मौत।...
saadat hasan manto

खोल दो

'खोल दो' - सआदत हसन मंटो अमृतसर से स्पेशल ट्रेन दोपहर दो बजे चली और आठ घंटों के बाद मुगलपुरा पहुंची। रास्ते में कई आदमी...
Qurratulain Hyder

फ़ोटोग्राफ़र

मौसमे-बहार के फलों से घिरा बेहद नज़रफ़रेब गेस्टहाउस हरे-भरे टीले की चोटी पर दूर से नज़र आ जाता है। टीले के ऐन नीचे पहाड़ी...
Saadat Hasan Manto

बू

बरसात के यही दिन थे। खिड़की के बाहर पीपल के पत्ते इसी तरह नहा रहे थे सागवन के स्प्रिन्गदार पलंग पर, जो अब खिड़की...
Saadat Hasan Manto

ठण्डा गोश्त

'ठण्डा गोश्त' - सआदत हसन मंटो ईशरसिंह ज्यों ही होटल के कमरे में दाखिल हुआ, कुलवन्त कौर पलंग पर से उठी। अपनी तेज-तेज आँखों से...
कॉपी नहीं, शेयर करें! ;)