UGC NET Hindi – Syllabus and Study Material

इकाई – V : हिन्दी कविता

निराला – बाँधों न नाव इस ठाँव बंधु

सुमित्रानंदन पंत – प्रथम रश्मि, द्रुत झरो जगत के जीर्ण पत्र

महादेवी वर्मा – बीन भी हूँ मैं तुम्हारी रागिनी भी हूँमैं नीर भरी दुःख की बदली, फिर विकल हैं प्राण मेरे, यह मन्दिर का दीप इसे नीरव जलने दो

नागार्जुन – कालिदास, बादल को घिरते देखा है, अकाल और उसके बाद, खुरदरे पैर, शासन की बंदूक

सच्चिदानंद हीरानन्द वात्स्यायन अज्ञेय – कलगी बाजरे की, यह दीप अकेला, हरी घास पर क्षण भरकितनी नावों में कितनी बार

भवानीप्रसाद मिश्र – गीत फ़रोशसतपुड़ा के जंगल

धूमिलनक्सलबाड़ी, मोचीराम, अकाल दर्शन

इकाई – VII : हिन्दी कहानी

राजेन्द्र बाला घोष (बंग महिला) – दुलाईवाली

माधवराव सप्रे – एक टोकरी भर मिट्टी

प्रेमचंद – ईदगाह, दुनिया का सबसे अनमोल रत्न

राजा राधिकारमण प्रसाद सिंह – कानों में कंगना

चन्द्रधर शर्मा गुलेरी – उसने कहा था

जयशंकर प्रसाद – आकाशदीप

जैनेन्द्र – अपना अपना भाग्य

फणीश्वरनाथ रेणू – तीसरी कसम, लाल पान की बेगम

अज्ञेय – गैंग्रीन

शेखर जोशी – कोसी का घटवार

भीष्म साहनी – अमृतसर आ गया हैचीफ की दावत

कृष्णा सोबती – सिक्का बदल गया

हरिशंकर परसाई – इंस्पेक्टर मातादीन चाँद पर

ज्ञानरंजन – पिता

कमलेश्वर – राजा निरबंसिया

निर्मल वर्मा – परिंदे

इकाई – VIII : हिन्दी नाटक

मोहन राकेश – आधे अधूरे

इकाई – IX : हिन्दी निबन्ध

भारतेन्दु हरिश्चंद्र – भारतवर्षोन्नति कैसे हो सकती है

बाल कृष्ण भट्ट – शिवशंभु के चिट्ठे

हजारी प्रसाद द्विवेदी – नाखून क्यों बढ़ते हैं

विद्यानिवास मिश्र – मेरे राम का मुकुट भीग रहा है

अध्यापक पूर्ण सिंह – मजदूरी और प्रेम

इकाई – X : आत्मकथा, जीवनी तथा अन्य गद्य विधाएँ

हरिशंकर परसाई – भोलाराम का जीव

 

यह पेज लगातार अपडेट किया जा रहा है, विद्यार्थी चेक करते रहें…