विवरण:

‘भट्ठी में पौधा’ संग्रह की इन कहानियों में हमारे आज के ‘शुद्धतावादी’ समय के आतंक की छाप है तो उसे नेस्तनाबूद कर मनुष्य को बचाने की दृढ़ता भी। पठनीय और स्मरणीय कहानियाँ! शिल्प की दृष्टि से भी; भाषा के टटकेपन और देशज महक की वजह से भी। – रोहिणी अग्रवाल

  • Format: Hardcover
  • Publisher: Vani Prakashan (2018)
  • ISBN-10: 9387648893
  • ISBN-13: 978-9387648890

इस किताब को खरीदने के लिए ‘भट्ठी में पौधा’ पर या नीचे दी गयी इमेज पर क्लिक करें!

bhatthi mein paudha - link to buy

 

Previous articleयुगल स्वप्न
Next articleस्वर्ग दूत से (ऐसी क्या बात है)
पोषम पा
सहज हिन्दी, नहीं महज़ हिन्दी...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here