पाब्लो पिकासो के उद्धरण | Pablo Picasso Quotes in Hindi

अनुवाद: पुनीत कुसुम

 

“मैं वस्तुओं के चित्र वैसे बनाता हूँ जैसा मैं उन्हें सोचता हूँ, न कि वैसा जैसा मैं उन्हें देखता हूँ।”

 

“अनावश्यक का निष्कासन ही कला है।”

 

“ख़राब कलाकार नकल करते हैं, अच्छे कलाकार चोरी करते हैं।”

 

“कम्प्यूटर बेफ़ायदा होते हैं। वे आपको केवल जवाब दे सकते हैं।”

 

“प्रत्येक वस्तु एक चमत्कार है। यह भी एक चमत्कार ही है कि नहाते समय कोई शक्कर की डली की तरह घुल नहीं जाता।”

 

“जवान होने में काफ़ी वक़्त लगता है।”

 

“इंसानी चेहरे को कौन सही ढंग से देखता है- फ़ोटोग्राफर, आईना या पेंटर?”

 

“युवावस्था की कोई उम्र नहीं होती।”

 

“दूसरों की नक़ल करना ज़रूरी है, लेकिन ख़ुद की नक़ल करना दयनीय है।”

 

“हम सब जानते हैं कि कला सत्य नहीं है। कला एक झूठ है जो सत्य का बोध कराने में हमारी सहायता करती है।”

 

“प्रत्येक वस्तु जिसकी तुम कल्पना कर सकते हो, वास्तविक है।”

 

“हर बच्चा कलाकार होता है। सवाल यह है कि बड़े होने पर भी कलाकार कैसे बने रहें!”

 

यह भी पढ़ें: एलिफ़ शाफ़क के उद्धरण

Recommended Book:

Previous articleदेखेगा कौन?
Next articleनिर्मल वर्मा कृत ‘कला का जोखिम’
पाब्लो पिकासो
पाब्लो पिकासो (1881-1973) स्पेन के महान चित्रकार थे। वे बीसवीं शताब्दी के सबसे अधिक चर्चित, विवादास्पद और समृद्ध कलाकार थे। उन्होंने तीक्ष्ण रेखाओं का प्रयोग करके घनवाद को जन्म दिया। पिकासो की कलाकृतियां मानव वेदना का जीवित दस्तावेज हैं।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here