रस्किन बॉण्ड के उद्धरण | Ruskin Bond Quotes in Hindi

अनुवाद: पुनीत कुसुम

“युवा प्रेमियों के लिए लाल गुलाब। पुराने रिश्तों के लिए फ़्रेंच बीन्स।”

 

“प्रेम जो मृत्यु से परे है, वही जीवन को बचाए रखता है।”

 

“और जब सारी जंग ख़त्म होंगीं, तितली तब भी सुन्दर होगी।”

 

“प्रकृति को शासन करने दो, स्वच्छन्दता को गाने दो।”

 

“उधार ली गई किताबें और छाते कभी-कभार ही लौटाए जाते हैं।”

 

“रोमांस सबसे असम्भाव्य जगहों में छिपा रहता है।”

 

“मैं किताबों और दोस्तों पर पैसे ख़र्च करता हूँ, पत्थर और ईंटों के लिए मेरे पास पैसे नहीं हैं।”

 

“आम तौर पर लेखक ज़्यादा बात नहीं करते क्योंकि वे अपनी बातचीत को अपनी किताब के पाठक के लिए बचाकर रखते हैं।”

 

“दुनिया बदलती रहती है, लेकिन हमेशा कहीं न कहीं कुछ ऐसा होता है, जो वैसा ही बना रहता है।”

 

“हँस पाना और दयालु होना ही मात्र ऐसी चीज़ें हैं, जो मनुष्य को जानवर से बेहतर बनाती हैं।”

 

“हम रास्ते के अन्त तक अपनी हिम्मत से पहुँचते हैं, न कि क़िस्मत से।”

 

“बीता हुआ समय हमेशा हमारे साथ रहता है और वर्तमान को पोष‍ित करता है।”

 

“जब तक मृत्यु नहीं आती, सब कुछ जीवन है।”

 

“ख़ुशी एक रहस्यमय चीज़ है, जो अभावों और अधिकता के बीच कहीं मिलती है।”

 

“पुस्तकें पढ़ने की आदत ने मुझे कम उम्र के एक लड़के से लेकर इस उम्र तक हमेशा यह महसूस कराया है कि जीवन सुन्दर है।”

 

“यह अक्सर होता है कि अच्छी नज़र रखने वाले मनुष्य भी वह देखने में असफल रहते हैं, जो बिलकुल उनके सामने है।”

Book by Ruskin Bond:

Previous articleभानु भारती कृत ‘तमाशा न हुआ’
Next articleफ़ोटोग्राफ़र
रस्किन बॉण्ड
रस्किन बॉण्ड (जन्म 19 मई 1934) अंग्रेजी भाषा के एक विश्वप्रसिद्ध भारतीय लेखक हैं। 1999 में भारत सरकार ने उन्हें साहित्य के क्षेत्र में उनके योगदानों के लिए पद्म श्री से सम्मानित किया। 2014 में उन्हें पद्म भूषण से सम्मानित किया गया। अॅवर ट्रीज़ स्टिल ग्रो इन देहरा के लिए साहित्य अकादमी पुरस्कार।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here