बनाम लार्ड कर्जन
श्रीमान् का स्वागत्
वैसराय का कर्तव्य
पीछे मत फेंकिये
आशा का अन्त
एक दुराशा
विदाई सम्भाषण
बंग विच्छेद
लार्ड मिन्टो का स्वागत
मार्ली साहब के नाम
आशीर्वाद
शाइस्ताखां का खत – 1
शाइस्ताखां का खत – 2
सर सैय्यद अहमद का खत

Previous articleबनाम लार्ड कर्जन
Next articleअपराजिता के चार फूल
बालमुकुंद गुप्त
बालमुकुंद गुप्त (१४ नवंबर १८६५ - १८ सितंबर १९०७) का जन्म गुड़ियानी गाँव, जिला रिवाड़ी, हरियाणा में हुआ। उन्होने हिन्दी के निबंधकार और संपादक के रूप हिन्दी जगत की सेवा की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here