Tag: Being Busy

Gyanendrapati

आओ, चलें हम

आओ, चलें हम साथ दो क़दम हमक़दम हों दो ही क़दम चाहे दुनिया की क़दमताल से छिटक हाथ कहाँ लगते हैं मित्रों के हाथ घड़ी-दो घड़ी को घड़ीदार हाथ—जिनकी कलाई की...
कॉपी नहीं, शेयर करें! ;)