Tag: Friedrich Hölderlin

Friedrich Holderlin

जीवन के मध्य में

'At The Middle Of Life' - Friedrich Holderlin अनुवाद: पुनीत कुसुम पृथ्वी लटकती है नीचे की ओर झील की तरफ, लदी- पीली नाशपातियों और जंगली गुलाबों से। सुन्दर राजहंसों, मदहोश हो...
कॉपी नहीं, शेयर करें! ;)