Tag: Shashikala Virayay Swami

Traditional Woman leaning on wall

सती

प्रेम माने क्या है पता है मित्र? मात्र मेरे होंठ, कटि सहलाकर रमना नहीं मात्र बातों का महल बना उसमें दफ़ना देना नहीं। आओ कम-से-कम एक बार भीगो मेरे आँसुओं...
कॉपी नहीं, शेयर करें! ;)