Tag: Aphorism in Hindi

Kahlil Gibran

कविता

"जितना बोल चुका हूँ उससे ज्यादा कविता मेरे हृदय में हैं और जितना लिख चुका हूँ उससे कहीं ज्यादा मेरे खयालों में है..."
कॉपी नहीं, शेयर करें! ;)