‘The Descendants: The Maggots’ – Kamala Das
अनुवाद: पुनीत कसूम

शाम के समय, नदी के तट पर, कृष्ण ने
उसे आख़िरी बार प्रेम किया
और चले गए छोड़कर

उस रात अपने पति की बाहों में, राधा
इतनी बेजान थी कि उसके पति ने पूछा- “क्या कुछ ग़लत है?
क्या मेरे चूमने से तुम्हें परहेज़ है?” तो उस पर राधा बोली,
“नहीं, बिलकुल नहीं!” और सोचा कि क्या ही फ़र्क पड़ता है
एक लाश को अगर कीड़े काटते हैं?

Previous articleघर जमाई
Next articleपकते गुड़ की गरम गंध से
कमला दास
कमला सुरय्या, पूर्व नाम कमला दास (31 मार्च 1934- 31 मई 2009) अँग्रेजी व मलयालम भाषा की भारतीय लेखिका थीं। वे मलयालम भाषा में माधवी कुटटी के नाम से लिखती थीं। उन्हें उनकी आत्मकथा ‘माई स्टोरी’ से अत्यधिक प्रसिद्धि मिली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here