Today is a lesson

Get a pen and a paper For today is a lesson A lesson that your existence is as immaterial as west winds to dead seeds as shores to cyclones as life to hatred!

चित्रलेखा

"मैंने एक अनुभव किया है- जब भी मैं अलगाव की कोई भी बात पढ़ती हूँ तो उद्विग्न हो जाती हूँ।…

राधा-कृष्ण

Puneet- हे राधे, हे राधे हे राधे, हे राधे हे राधे, हे राधे कान्हा ढूँढ रहा तुझे राधे ऊपर नभ्…

चाय-अदरक

"चार महीने जिम जाकर ये अदरक जैसी बॉडी बनायी तुमने?" "तुम चाय जैसी क्यों होती जा रही हो?" "चाय जैसी? मतलब? देखो…

  • 1
  • 2
Close Menu
error: