Tag: River

Ram Dayal Munda

राम दयाल मुण्डा की कविताएँ

सूखी नदी/भरी नदी सूखी नदी एक व्यथा-कहानी जब था पानी तब था पानी!भरी नदी एक सीधी कहानी ऊपर पानी, नीचे पानी। विरोध उसे बाँधकर ले जा रहे थे राजा के सेनानी और नदी छाती पीटकर...
Kailash Vajpeyi

क्षणिकाएँ : कैलाश वाजपेयी

स्पन्दन कविता हर आदमी अपनी समझ-भर समझता हैईश्वर एक कविता है! मोमिन पूजाघर पहले भी होते थे, हत्याघर भी पहले होते थेहमने यही प्रगति की है दोनों को एक में मिला दिया। आदिम...
Rohit Thakur

नदी

नदी : नौ कविताएँ1नदी को देखना नदी को जानना नहीं है नदी को छूना नदी को पाना नहीं है नदी के साथ सम्वाद नदी की तरह भीगना नहीं है नदी...
Sea Beach Water Evening Sunset

नदी और सागर

'Nadi Aur Sagar', a poem by Rupam Mishraएक दिन शरद की सुहानी-सी रात थी प्रकृति ने ज्योत्स्ना के साथ जैसे प्रणय भी बिखेर दिया था वातावरण...

नदी से रिश्ता

'Nadi Se Rishta', a poem by Rag Ranjanतब तक नहीं होता अकेलेपन का एहसास जब तक ठहरी नदी में कोई हलचल न हो, किनारे लगी नाव चुप देखती है हवा...
Deepak Jaiswal

लूनी नदी

'Looni Nadi', a poem by Deepak Jaiswalअमूमन नदियाँ समंदर में जाकर मिल जाती हैं— पूर्णता को धारण करते हुए एक सुंदर जीवन जीते हुए।लेकिन कुछ नदियों...
Prabhat Milind

बारिश के दिनों में नदी का स्मृति-गीत

'Barish Ke Dino Mein Nadi Ka Smriti Geet', Hindi Kavita by Prabhat Milind 1 स्वप्न में बहती है चौड़े पाट की एक नदी बेआवाज़ याद का कंकड़...
Woman Standing near River, making Love sign

अनुवाद तुम

आँखों की नमी प्रेम की भाषा है। भाषा एक नदी है, नदी पानी का अनुवाद।अनुवाद दो किनारों का संवाद है, संवाद के लिए जरूरी नहीं भाषा।प्रेम की एक ही भाषा है, 'तुम'...
Samay Ki Nadi Par Pul Nahin Hota - Rahul Boyal

समय की नदी पर पुल नहीं होता (कविता संग्रह)

रोटीप्रेम और भूखपशुआजकल प्रेमजहाँ दो प्रेमी रहते होंतुम और मैंएक दिनअनुत्तरितपत्थर और पानीव्याकरण 
Bhuvaneshwar

नदी के दोनों पाट

नदी के दोनों पाट लहरते हैं आग की लपटों में दो दिवालिए सूदखोरों का सीना जैसे फुँक रहा हो शाम हुई कि रंग धूप तापने लगे अपनी यादों की और नींद...
october - shoojit sircar

‘अक्टूबर’: एक नदी जिसमें डूबकर मर जाने से भी कोई परहेज नहीं।

जब किसी अपने का हाथ छूट रहा हो तो अंतर काँप उठता है। एक टूटन महसूस होने लगती है, एक डर पैदा होता है,...

STAY CONNECTED

38,332FansLike
19,561FollowersFollow
27,839FollowersFollow
1,660SubscribersSubscribe

RECENT POSTS

Nurit Zarchi

नूइत ज़ारकी की कविता ‘विचित्रता’

नूइत ज़ारकी इज़राइली कवयित्री हैं जो विभिन्न साहित्य-सम्बन्धी पुरस्कारों से सम्मानित हैं। प्रस्तुत कविता उनकी हीब्रू कविता के तैल गोल्डफ़ाइन द्वारा किए गए अंग्रेज़ी...
Sunset

कितने प्रस्थान

सूरज अधूरी आत्महत्या में उड़ेल आया दिन-भर का चढ़ना उतरते हुए दृश्य को सूर्यास्त कह देना कितना तर्कसंगत है यह संदेहयुक्त है अस्त होने की परिभाषा में कितना अस्त हो जाना दोबारा...
Naresh Mehta

कवच

मैं जानता हूँ तुम्हारा यह डर जो कि स्वाभाविक ही है, कि अगर तुम घर के बाहर पैर निकालोगे तो कहीं वैराट्य का सामना न हो जाए, तुम्हें...
Vishesh Chandra Naman

मैं

मैं एक तीर था जिसे सबने अपने तरकश में शामिल किया किसी ने चलाया नहींमैं एक फूल था टूटने को बेताब सबने मुझे देखा, मेरे रंगों की तारीफ़ की और मैं...
Gaurav Bharti

कविताएँ: नवम्बर 2021

यात्री भ्रम कितना ख़ूबसूरत हो सकता है? इसका एक ही जवाब है मेरे पास कि तुम्हारे होने के भ्रम ने मुझे ज़िन्दा रखातुम्हारे होने के भ्रम में मैंने शहर...
God, Abstract Human

कौन ईश्वर

नहीं है तुम्हारी देह में यह रुधिर जिसके वर्ण में अब ढल रही है दिवा और अँधेरा सालता हैरोज़ थोड़ी मर रही आबादियों में रोज़ थोड़ी बढ़ रही...
Haruki Murakami

हारुकी मुराकामी की कहानी ‘सातवाँ आदमी’

कहानी: 'सातवाँ आदमी' लेखक: हारुकी मुराकामी जापानी से अनुवाद: क्रिस्टोफ़र एलिशन हिन्दी अनुवाद: श्रीविलास सिंह"वह मेरी उम्र के दसवें वर्ष के दौरान सितम्बर का एक अपराह्न था...
Aashika Shivangi Singh

आशिका शिवांगी सिंह की कविताएँ

माँ-पिता प्रेमी-प्रेमिका नहीं बन सके मेरी माँ जब भी कहती है— "प्रेम विवाह ज़्यादा दिन नहीं चलते, टूट जाते हैं" तब अकस्मात ही मुझे याद आने लगते...
Lee Min Yung

कविता सरहदों के पार, हक़ीक़त के बीच दरार और कुछ बेतरतीब विचार

वरिष्ठ ताइवानी कवि एवं आलोचक ली मिन-युंग की कविताओं के हिन्दी अनुवाद का संकलन 'हक़ीक़त के बीच दरार' जुलाई में पाठकों तक पहुँचा। साहित्यिक...
Thaharti Sanson Ke Sirhane Se - Ananya Mukherjee

दुःख, दर्द और उम्मीद का मौसम (अनन्य मुखर्जी की कैंसर डायरी)

'ठहरती साँसों के सिरहाने से' अनन्या मुखर्जी की डायरी है जो उन्होंने 18 नवम्बर, 2018 को स्तन कैंसर से लड़ाई हार जाने से पहले...
कॉपी नहीं, शेयर करें! ;-)